benefits of motor insurance in hindi मोटर बीमा के फायदे | Importance of Motor Insurance in hindi

benefits of motor insurance in hindi मोटर बीमा के फायदे | Importance of Motor Insurance in hindi

नमस्कार दोस्तो आज हम वात करेगे की Benefits of Motor Insurance यानि आपको अपनी वाइक या कार या किसी भी मोटर वाहन का वीमा (Motor Insurance) कराना क्यो जरूरी होता है ।

अगर गाडी का इन्श्योरेंस (Motor Insurance) न हो तो आप किन मुसीवतो मे फस सकते है। इसके साथ ही हम जानेगे की फस्ट पाट्री इन्श्योरेंस (Insurance) और र्थड पाट्री इन्श्योरेंस क्या होता है ।

वाहन वीमा यानी व्हीकल इन्श्योरेंस (Insurance) कराना इतना जरूरी इसलिए होता है क्योकि

  1. आपकी गाडी की यदि पुलिस द्वारा चैकिंग की जाती है तो आप का चालान इन्श्योरेंस न होने की वजह से नही काटा जाएगा।

जिसके वारे मे तो हम सभी जानते ही है  लेकिन दूसरा और सवसे महत्वपूर्ण फायदा जो इन्श्योरेंस (Insurance) कराने का आपको मिलता है वह यह है कि

अगर किसी भी स्थति मे आपकी गाडी से कोई दुर्धटना हो जाती है तो ऐसे मे आपकी गाडी को हुए नुकसान यदि आपको स्वंम गम्भीर चोट आई है।

तो उसके इलाज पर हुआ खर्च और अगर आपकी गाडी से किसी तीसरे व्यक्ति को कोई चोट आई है।

तो उसके इलाज मे हुए खर्च और उसकी इनकम पर हुये लॉस के सम्बन्ध मे वीमा कम्पनी जिस भी वीमा कम्पनी से आपने अपनी गाडी का इन्श्योरेंस Motor Insurance करा रखा है सारा खर्चा उठाएगी। 

और यदि आपकी गाडी से किसी व्यक्ति की दुर्घटना मे मत्यु हो जाती है। तो उस व्यक्ति पर आश्रित व्यक्तियो को भी वीमा कम्पनी ही क्लेम प्रदान करेगी ।

importance of motor insurance in india

अव वात करते है कि इन्श्योरेंस कम्पनी मोस्टली गाडी के लिए दो तरह के वीमे यानी फस्ट पाट्री इन्श्योरेंस (Insurance) और र्थड पाट्री इन्श्योरेंस कराती है।

फस्ट पाट्री इन्श्योरेंस (Insurance) मे और र्थड पाट्री इन्श्योरेंस मे मोस्टली यह र्फक होता है। कि यदि आप अपनी गाडी का फस्ट पाट्री इन्श्योरेंस (Insurance) कराते है

तो वीमा कम्पनी आप को स्वंम को और आपकी गाडी को और र्थड पाट्री यानी उस व्यक्ति को जिसको आपकी गाडी से चोट पहुची है। तीनो को हुये नुकसान की भरपाई करती है।

और अगर आप र्थड पाट्री इन्श्योरेंस कराते है जो वीमा कम्पनी द्वारा सिर्फ र्थड पाट्री यानी अगर आपकी गाडी से किसी तीसरे व्यक्ति को चोट आई है।

तो उसको हुये नुकसान की भरपाई करती है आपके स्वंम के लिए और आपकी गाडी को वीमा कम्पनी कोई क्लेम नही देती है।

यदि आपकी गाडी द्वारा हुई दुर्घटना के कारण किसी थर्ड पाट्री की किसी सम्पत्ती को भी यदि कोई नुकसान होता है।

तो उसकी भरपाई भी वीमा कम्पनी द्वारा की जाती है प्रत्येक मोटर व्हीकल का कम से कम र्थड पाट्री इन्श्योरेंस कराना अनिवार्य है।

why vehicle insurance is compulsory in india

यदि आप विना वीमा कराये अपनी गाडी को सार्वजनिक स्थान पर चलाते है।

तो इस प्रकार विना वीमा कराये गाडी को सार्वजनिक स्थान पर चलाना मोटर व्हीकल एक्ट 1988 के तहत अपराध है जिसके लिए आपको भारी जुर्माना चुकाना पड सकता है

अव वात करते है कि अगर आप की गाडी का इन्श्योरेंस (Motor Insurance)  नही है और आपकी गाडी से किसी का एक्सीडेन्ट हो जाता है।

तव क्या होगा अगर आपकी गाडी का इन्श्योरेंस (Motor Insurance) नही है और किसी र्थड पाट्री को चोट पहुचती है या उसकी मृत्यु हो जाती है।

तो मोटर एक्सीडेन्ट क्लेम एक्ट के प्रावधानो के तहत वह र्थड पाट्री आप से अपने हुए नुकसान के लिए डिस्ट्रिक कोर्ट मे आपके खिलाफ मुकदमा यानी छतिपूर्ती पाने का केस फाइल कर सकती है।

और अगर उसकी मृत्यु हो जाती है तो उसके घर वाले आपके खिलाफ कोर्ट मे क्लेम पाने के लिए याचिका दायर कर सकते है।

और अगर ऐसा होता है और एक्सीडेन्ट होने के समय आपकी गाडी का इन्श्योरेंस (Motor Insurance) नही था तो आप को वहुत वडा नुकसान हो सकता है।

why vehicle insurance is mandatory

इस प्रकार के केस मे अगर दुघर्टना के समय गाडी का इन्श्योरेंस (Motor Insurance) था तो छतिपुर्ती देने का सारा दायित्व वीमा कम्पनी का होता है।

लेकिन यदि इन्श्योरेंस नही था तो क्लेम का सारा पैसा गाडी मालिक को चुकाना होता है।

तो ऐसी गलती कभी न करे यदि आपने अपनी गाडी का इन्श्योरेंस (Motor Insurance) नही कराया है तो हो सकता है कि आप वडी मुसीवत मे फंस जाए।

कई प्रकार की स्थतियो मे गाडी का इन्श्योरेंस (Motor Insurance) होते हुए भी गाडी मालिक को ही क्लेम का पैसा देना पड सकता है ऐसा तव होता है जव वीमा कम्पनी द्वारा दी गई शर्तो का आप उल्हंगन करते है।

यानी यदि दुर्घटना के समय आपकी गाडी किसी माइनर द्वारा चलाई गई हो या दुर्घटना के समय चालक का लाइसेन्स ही न हो आदि कई कारणो से ऐसा भी हो सकता है।

वैसे तो आपको हमेशा फस्ट पाट्री इन्श्योरेंस ही कराना चाहिए लेकिन अगर आप फस्ट पाट्री इन्श्योरेंस नही लेते है तो आपको थर्ड पाट्री इन्श्योरेंस काराना वहुत ही ज्यादा आवश्यक है।

तो दोस्तो मुझे लगता है कि आप समझ गये होगे की गाडी का इन्श्योरेंस Importance of Motor Insurance कराना इतना ज्यादा आवश्यक क्यो होता है।

Previous
Next Post »

Thank you !
We will reply to you soon ConversionConversion EmoticonEmoticon