Section 140 Crpc in Hindi | धारा 140 Crpc

Section 140 Crpc in Hindi | धारा 140 Crpc

Section 140 Crpc in Hindi
Section 140 Crpc in Hindi
धारा 140 Section 140 Crpc in Hindi उस स्थति में प्रावधानों करती है जब कार्यपालक मजिस्ट्रेट धारा 139 किसी  स्थान का मुयायना या इंस्पेक्शन करने का आदेश देता है।

तब बह मुयायना करने बाले व्यक्ति को लिखित में यह आदेश दे सकता है कि बह मुयायना करते समय कुछ नियमो का पालन करे जो लिखित रूप में उक्त आदेश में दिए गए होंगे।

यानि बह ऐसे व्यक्ति को लिखित में गाइडलाइन्स जारी कर सकता है। और इसी के साथ कार्यपालक मजिस्ट्रेट इस बात की भी घोषणा कर सकता है।

कि इस प्रकार किये जाने बाले मुआयने के सारे खर्चे किसके द्वारा दिए जायेंगे। और मुयायना किये जाने के वाद दी जाने वाली रिपोर्ट साक्ष्य यानि एविडेंस के रूप में पढ़ी जा सकती है।

इसी के अलाबा धारा 139  के तहत अगर कार्यपालक मजिस्ट्रेट किसी विशेषज्ञ को बुलाता है या उसकी परीक्षा करता है।

तो ऐसी स्थति में विशेषज्ञ को बुलाने व् उसके परीक्षा करने पर ही होने वाले खर्चे किसके द्वारा दिए जायेंगे इसकी घोषणा भी मजिस्ट्रेट धारा 140 (Section 140 Crpc in Hindi) के अंतर्गत कर सकता है। 

 इसे भी पढ़े -:

  1. Section 129 Crpc in Hindi
  2. Section 130 Crpc in Hindi
  3. Section 131 Crpc in Hindi
  4. Section 132 Crpc in Hindi
  5. Section 133 Crpc in Hindi
  6. Section 134 Crpc in Hindi
  7. Section 135 Crpc in Hindi
  8. Section 136 Crpc in Hindi
  9. Section 139 Crpc in Hindi

Section 140 Crpc in Hindi  

मजिस्ट्रेट की लिखित अनुदेश आदि देने की शक्ति - 

(1) जहाँ मजिस्ट्रेट धारा 139 के अधीन किसी व्यक्ति द्वारा स्थानीय अन्वेषण किये जाने के लिए निदेश देता है वहां मजिस्ट्रेट -

(क) उस व्यक्ति को ऐसे लिखित अनुदेश दे सकता है जो उसके मार्गदर्शन के लिए आवश्यक प्रतीत हो। ,
 
(ख) यह घोषित कर सकता है की स्थानीय अन्वेषण का सब आवश्यक व्यय , या उसका कोई भाग , किसके द्वारा  दिया जाये। 

(2) ऐसे व्यक्ति की रिपोर्ट के मामले में साक्ष्य के रूप में  पढ़ा जा सकता है।

(3) जहाँ मजिस्ट्रेट धारा 139 के अधीन किसी विशेषज्ञ को समन करता है और उसकी परीक्षा करता है वहां मजिस्ट्रेट निदेश दे  सकता है की ऐसे समन करने और परीक्षा करने किसी द्वारा दिए जायेंगे।

Power of Magistrate to furnish written instruction , etc -

(1) Where the Magistrate direct a local investigation by any person under Section 139 , the Magistrate may -

(a) Furnish such person with such written instruction may seem necessary for his guidance ;

(b)declare by whom the Whole or any part of the necessary expenses of the local investigation shall be paid .

(2) The report of such person may be read as evidence in the case . 

(3) Where the Magistrate summons and examine an expert under Section 139, the Magistrate may direct by whom the cost of such summons and examination shall be paid .
Previous
Next Post »