किरायेदार के 10 कानूनी अधिकार

किरायेदार के 10 कानूनी अधिकार 

हेलो दोस्तों कैसे है आप स्वागत है आपका अपने ब्लॉग Gyani law में आज हम बात करने बाले है किरायेदार के कानूनी अधिकार 

भारत के संबिधान ने देश के सभी नागरिको को सामान अधिकार दिए है सम्मान और न्यायपूर्वक जीवन जीने का अधिकार सभी को हमारे संबिधान ने दिया है। 

लेकिन कई बार जानकारी के आभाव में लोगो को न्याय से बंचित रहना पढता है लोगो तक न्याय की पहुंच बड़े और उन्हें जो अधिकार प्राप्त है बह अधिकार उन्हें मिले इसके लिए सरकार मुफ्त कानूनी सहायता देती है।

इसी प्रकार आज हम इस लेख में आपके कानूनों से रूबरू कराएँगे क्या है आपके अधिकार और साथ ही हम जानेंगे की की आपकी मदद के लिए सरकार ने क्या क्या प्रावधान किये है।

महानगरों से लेकर छोटे-बड़े शहरो की सबसे बड़ी समस्या है रहने के लिए मकान या व्यापार के लिए एक दुकान मकान मालिक के लिए जहाँ कोई भी प्रॉपर्टी देना मुनाफा कमाने का एक वेहतर जरिया होता है।

तो बही किरायेदार को मकान-मालिक के साथ एक ताल-मेल विथा के रहना एक बड़ी चुनौती होती है कई बार मकान मालिकों के मनमाने रबइये की बजह से किरायदारों को काफी परेशानिया झेलनी पढ़ती है।

क्युकी प्रॉपर्टी का बह मालिक है इसलिए कानून भी ज्यादातर उनके हक़ में है लेकिन अगर कुछ बातों का ख्याल रखा जाये तो किरायेदार के कानूनी अधिकार भी है।

अगर आप एक किरायेदार है या जो मकान-मालिक किरायेदार रखने  जा रहे है तो आपके लिए जानना जरुरी है कि क्या है किरायेदार के कानूनी अधिकार।

तो चलिए जानते है सरकार द्वारा बनाये गए नियम क्या है।

किरायेदार के कानूनी अधिकार

  1. तो सबसे पहले बात आती है Agreement यानि समझौते की तो इसके में सरकार ने यह नियम बनाया है कि कोई भी मकान-मालिक Rent Agreement के बीच में किराया नहीं बढ़ा सकता। यानि अगर आपका एक बार अग्रीमेंट जो किराया दर्ज हुआ है अग्रीमेंट ख़तम होने तक मकान-मालिक चाह कर भी किराया नहीं बढ़ा सकता। 
  2. इसके अलाबा अगर मकान-मालिक किराया बढ़ाना चाहता है तो मकान-मालिक को 3 माह पहले किरायेदार को एक नोटिस देना होगा या उससे 3 माह पहले यह सूचित करना होगा कि बह किराया बढ़ाने जा रहा है। यानि अगर आपके मकान-मालिक बिना आपको अग्रिम सूचना दिए अचानक किराया बढाते है तो आप उसका विरोध कर सकते है।क्युकी यह आपका कानूनी अधिकार है जो आपको सरकार द्वारा प्राप्त है। 
  3. इसी के साथ किरायेदार मकान-मालिक को जो किराये का भुगतान करता है तो किरायेदार को उस मकान-मालिक से उस किराये की रशीद पाने का अधिकार रखता है, यानि आप किराया कैसे भी दे cash या digital लेकिन यह आपका अधिकार है कि आप उससे उस भुगतान की रसीद ले सकते है। 
  4. इसी के साथ मकान-मालिक मकान को किराये पर देते समय जो बॉन्ड होता है यानि जो सुरक्षा राशि होती है या कहे की एडवांस पेमेंट जो होता है बो भी बह सिर्फ 2 माह के किराये से ज्यादा नहीं मांग सकता। यानि एडवांस  राशि के तोर पर आप उसको सिर्फ 2 महीने का किराया ही दे सकते है। किरायेदार के 10 कानूनी अधिकार
  5. इसी के साथ मकान-मालिक Agreement ख़त्म होने से पहले मकान को खली करने के लिए नहीं कह सकता और यदि बह ऐसा करता है यो आप इसका विरोध कर सकते है। 
  6. इसी के साथ कई बार सुनने में आता है की किसी विवाद के चलते मकान-मालिक ने किरायेदार की बिजली या पानी बंद कर दिया है तो मकान-मालिक ऐसा नहीं कर सकता मकान-मालिक को किरायेदार को मूल-भूत सुबिधाये जैसे - पानी, बिजली उपलब्ध करनी होंगी। 
  7. इसी के साथ मकान-मालिक अगर अपना मकान खाली करना चाहता है तो उसे पहले किरायेदार को अग्रिम नोटिस देना होगा अचानक न तो बह किरायेदार को घर खाली कहने को कह सकता है न ही किराया बढ़ाने को। 
  8. इसी के साथ अगर मकान में कोई कमी है या कही टूट-फुट है जैसे - प्लास्टर गिरना, पेंट आदि यानि अगर मकान मरम्मत की स्थिति में है तो मकान-मालिक की यह जिम्मेदारी बनती की बह मकान में मरम्मत कराये और किरायेदार का यह अधिकार भी है कि बह उससे मरम्मत करने को कह सकता है। 
  9. इसी के साथ अगर आप ऐसी जगह रहे है जहाँ आपका किराया 3500 से कम है तो मकान-मालिक 3 साल में 10% प्रतिशत से ज्यादा किराया नहीं बड़ा सकता। यानि मकान-मालिक सिर्फ 3 साल में आपके किराये में 10 % की ही बढ़ोतरी कर सकता है। 
  10. यही जब किरायेदार जब मकान खाली करेगा तो मकान-मालिक ने जो बॉन्ड के रूप में धनराशि ली है बह उसे बापस करनी होगी।

तो ये थे किरायेदार के कानूनी अधिकार अगर आप इसके अलावा हमसे कोई सलाह लेना चाहते है तो हमें Comment Box में बताये हम आपके सबालो का जबाब देने का प्रयाश करेंगे।

साथ ही Gyani law से जुड़ने और कानून की ऐसी ही जानकारियों के लिए आप हमसे You Tube पर भी जुड़ सकते है और हमरे ज्ञानी लॉ चैनल को subscribe कर सकते है।

धन्यवाद

Previous
Next Post »

39 Comments

Click here for Comments
Unknown
admin
29.3.21 ×

अगर किराया रु०3500/= से अधिक हो तो कितना प्रतिशत बढ़ेगा?

Reply
avatar
Anonymous
admin
29.3.21 ×

अगर किराया 3500 से ऊपर है तो यह किरायेदार और मकान-मालिक के बिच में हुए Rent Agreement पर निर्भर करता है कि एग्रीमेंट में उन्होंने प्रति वर्ष कितना % परसेंट किराया बढ़ाये जाने का कहा है।

Reply
avatar
Unknown
admin
14.5.21 ×

Registered agreement he ki kiraya kbi nhi badhega par ab makan malik kiraya badhana chata he

Reply
avatar
Unknown
admin
11.6.21 ×

अगर दुकान मालिक किसी के हाथ दुकान बेच दे तो जो किराएदार उस पर काबिज है और किराया भी लगातार अदा कर रहा है उसका क्या अधिकार है।

Reply
avatar
Unknown
admin
11.6.21 ×

अगर दुकान मालिक किसी के हाथ दुकान बेच दे तो जो किराएदार उस पर काबिज है और किराया भी लगातार अदा कर रहा है उसका क्या अधिकार होगा?

Reply
avatar
Unknown
admin
13.6.21 ×

12 th month Ka Kiraya De Diya h.
12 Din Baad 1 Saal Hoga.
To Ab Mkan Malik Boll Rha h room Khali Kro

Reply
avatar
Anonymous
admin
13.6.21 ×

Thanks..

Reply
avatar
Unknown
admin
14.6.21 ×

Agar kisi wajah se tenent kiraya na de paya ho to kya hoga

Reply
avatar
Anonymous
admin
14.6.21 ×

kiraya na de paaye se agr aap kuch samay ke liye kiraya dene me asmarth hain to aap makaan malik se kuch samay ke liye mohlat mang sakte hain..

baki agr aap ka Agreement hai to janbujh kar kiraya na deten hain to makaan malik apke kilaf karvahi kara sakta hai

Reply
avatar
Unknown
admin
22.6.21 ×

Agr bank ko 4500 per month me room rent pe de rhe hai to unka kitna percent hr saal rent badhana chahiye.

Reply
avatar
Unknown
admin
23.6.21 ×

Dukan ka kiraya you 4000 h to kitne Sal me kiraya kitne persant bhadega

Reply
avatar
Unknown
admin
23.6.21 ×

Dukan ka rent kitna bdhta h

Reply
avatar
ritesh kumar
admin
25.6.21 ×

Agar meri rented shop ke bagal wali shop khali ho jaye or mujhe vo space chahiye lekin makaan malik bina puchhe kisi or ko shop dene lag jaye iss condition me kya krna chahiye???

Reply
avatar
Anonymous
admin
25.6.21 ×

dekhiye isaki koi legal process to hai nhi retesh bhai.... bh vyakti us property ka malik hai or us ko yah adhikar hai ki bh apni property kisi ko bhi rent par de sakta haim..

eshi condition me aap us vyakti se baat kar samjhota kar us jagah ko aap le sakten hain....

Reply
avatar
Anonymous
admin
25.6.21 ×

yadi makaan malik duara dukaan bech di gayi hai to, kirayedar ko naye dukaan malik ko kiraya dena hoga.....\

ese me makaan malik change hone par bhi kirayedar se dukaan khali nhi karayi ja sakti...

Reply
avatar
Anonymous
admin
25.6.21 ×

Apke rent agreement me jis prakar se kiraya badane ki sharton ko di gayin hongi unhi ke hisab se kiraya badega

Reply
avatar
Anonymous
admin
25.6.21 ×

Apke rent agreement me jis prakar se kiraya badane ki sharton ko di gayin hongi unhi ke hisab se kiraya badega

Reply
avatar
Tricky_shiv
admin
2.7.21 ×

Agar makaan Malik bolta h ki Sara Ka Sara kiraya abhi do or hamare pass na ho to or makaan Malik ko Bola ki abhi nahi h Jaise hi aayenge de denge magar makaan Malik ye bole ki kha bhi to rahe ho vaise hi hame bhi paisa chahiye to aise me kya kare

Reply
avatar
Unknown
admin
5.7.21 ×

अगर अचानक मकान मालिक lockdown mein किराया बड़ा दे और पानी की समस्या से भी तंग करे एक दम 1000रु बड़ा दे ऐसी और अचानक कमरा खाली करो ऐसा कहे तो क्या करना चाहिए

Reply
avatar
Unknown
admin
11.7.21 ×

Agar dukan kisi ke naam pe ho wo betha us dukan me 30 saal se ho to wo dukan khali kara Sakta he ya nhi

Reply
avatar
rock
admin
18.7.21 ×

Sir meri ek shop rent per he jo 1993 se rent per chal rahi he lekin pahle wala agreement mere uncle ke naam tha per rent me deposit karata aa raha per kuch saal pahle uncle ki death ho gayi to new agreement kiya gaya per lockdown ki wajah se rent dene me kuch deri ho gayi to shop ke owner ne notice bhijwaya he ki rent account me deposit karaye or shop khaali kr de ab aap bataye hum apni sefty ke liye kya kar sakte he

Reply
avatar
Unknown
admin
27.7.21 ×

rent pr liye flat me hm 10month se nhi the or rent proper de rahe the. bt balkani k pipe me kachra hone se bolck ho gya jisse hmare flat me pani bhar gya..jisse neeche wale flat me seelan aa gai.ab wo uska damage charch hmse maag raha h or owner bhi hmse hi dene ko keh raha h.. kya uske liye hmko hi dene chahiye ya owner ko??

Reply
avatar
EV Tech
admin
1.8.21 ×

Great, thanks for sharing this blog post.Much thanks again.
Good article

Reply
avatar
Unknown
admin
16.8.21 ×

Panchayat ki dukan ka kirayanama alag hota he kya?
Panchayat ki dukan ka kirayanama jyada se jyada
kitne sal ka hota he

Reply
avatar
Unknown
admin
18.8.21 ×

Agar kirayedar ak hi makan me 30 years se rah rha ho to us kai loye kya low h..?
Agar makan malik janrdasti nikalne ki koshish kre to ...us kai liye kirayedar kya kar skte h

Reply
avatar
Author
admin
18.8.21 ×

अगर दुकनदार ने दुकान किसी और व्यक्ति को बेच दी है और आपने लगातार किराया जमा किया है तो जिस दिन से आपको इस बात की जानकारी हुई कि दुकान बिक चुकी है उस दिन के बाद से आपको किराया नए दुकान दार को देना होगा।

और अगर बह किराया लेने से मना कर रहा है तो उस व्यक्ति को किराया मनी आर्डर कर दीजिये।

Gyanilaw Team

Reply
avatar
Author
admin
18.8.21 ×

यह आपके रेंट एग्रीमेंट में लिखित होता है और उसी के हिसाब से किराये में वृद्धि की जाती है। - Gyanilaw Team

Reply
avatar
Unknown
admin
21.8.21 ×

Agar household appne property kiss dusre person ko Beckham hai yedi kireadar us propty ko kar Dina chata hai to kya kireadar koi Court se rit laga kar us property ko le Santa hai

Reply
avatar
Author
admin
21.8.21 ×

आपके पास किरायेदारी के सम्बन्ध में कोई एग्रीमेंट है।

Reply
avatar
Author
admin
21.8.21 ×

जी बिलकुल आप उस दुकान में 30 साल से या 60 साल से या 160 साल से रह रहे हो तब भी बह दुकान खली करा सकता है - अतः किरायेदार कभी मालिक नहीं बनता सकता

Reply
avatar
Author
admin
21.8.21 ×

तुरंत किराया भेजे मनी आर्डर से और अगर मकान मालिक मनी आर्डर से किराया न ले तो आप कोर्ट में आर्डर जमा करें।

Reply
avatar
Author
admin
21.8.21 ×

नहीं आप उस के मालिक नहीं बनेंगे और अगर बह आपको जबरन निकल रहा है तो आप कोर्ट में मुक़दमा दायर कर सकते है

Reply
avatar
Author
admin
21.8.21 ×

कोर्ट ऐसा कोई आदेश नहीं कर सकता अगर बह व्यक्ति दुकान बेचे तो आप खरीद सकते है।

Reply
avatar
Unknown
admin
23.8.21 ×

Kya 11 mahine ke dukan rent aggeriment ke bich 6 mahine me kirayedar dukan khali kar sakta hai kya ?

Reply
avatar
Author
admin
23.8.21 ×

जी हां बीच में ही किरायेदार दुकान खाली कर सकता है।

Reply
avatar
Unknown
admin
17.9.21 ×

1-क्या प्राइवेट ट्रस्ट प्रॉपर्टी से किरायेदार को आसानी से बेदखल किया जा सकता है।
2-यदि किरायेदार को बाद में पता चले कि उसका मकान मालिक मकान का असली मालिक नहीं है तो क्या वह उसके खिलाफ दावा डाल सकता है। या उसे किराया देना बंद कर सकता है मकान मालिक को कैसे चैलेंज किया जा सकता है।

Reply
avatar
Unknown
admin
20.9.21 ×

Sir rent na dene s kisi k light paani cut gya h toh usme kya kr sakty h aur voh dusri jgh rent pr ghr lena chahty h lkin court s permission kese le bki vo apna case dusri jgh s ldege yha unhe light paani ki vjh s prblm h

Reply
avatar
Unknown
admin
21.9.21 ×

Mai kiraya nahi de pa raha hu kyoki mai gharme akela kamane wala hu


Neri majburi hai is liye
Nahi to mai kiraya dena chahata hu
Par makan malik bolta hai makan khali kar
Bolo mai kay kqru

Reply
avatar

Thank you !
We will reply to you soon ConversionConversion EmoticonEmoticon